शनिवार, 21 नवंबर 2009


मैकदे का ये भी निजाम होना चाहिए

वाएज के हाथ मे भी जाम होना चाहिए



निकल न पाए दामन बचाकर कोई

सबके सर पे ये इल्जाम होना चाहिए



बाकी रहे ना यहाँ आके कोई होश मे

सब के लिए ये पैगाम होना चाहिए



शुकु मिलता है मैकदे मे आके "मीत"

इसका भी मन्दिर नाम होना चाहिए

1 टिप्पणी:

  1. शुकु मिलता है मैकदे मे आके "मीत"
    इसका भी मन्दिर नाम होना चाहिए
    kya khoob likha hai sir waise hum bhi aapki baat se sehmat hai.............thanx

    उत्तर देंहटाएं